पनीर डोसा कैसे बनता है?

पनीर डोसा कैसे बनता है: पनीर डोसा रेसिपी

पनीर डोसा एक लोकप्रिय और स्वादिष्ट दक्षिण भारतीय लोगो का खाना है जिसको सुबह के नाश्ते के लिए बनाया जाता है। यह बहुत ही आसान और तेजी से बनने वाला खाना है जिसमें शुद्ध पनीर, दाल और चावल का आटा इस्तेमाल किया जाता है। इसमें हम आपको बताएंगे कि पनीर डोसा कैसे बनाया जाता है, पनीर डोसा खाने के फायदे और पनीर डोसा खाने के नुकसान इन सभी सामान्य जानकारी पर चर्चा करेंगे।

पनीर डोसा कैसे बनता है?

दो लोगो के लिए उपयुक्त सामग्री:
•1 कप चावल

•1/4 कप उड़द की दाल

•1 कप पनीर (कटा हुआ)

•1 हरी मिर्च (कटी हुई)

•1 छोटी प्याज (बारीक कटी हुई)

•1 टमाटर (बारीक कटा हुआ)

•1 छोटी कटोरी हरा धनिया (बारीक कटा हुआ)

•1 छोटी चम्मच अदरक-लहसुन पेस्ट का पेस्ट

•1/4 छोटी चम्मच हल्दी पाउडर

नमक स्वादानुसार ले और पानी अपनी जरूरत के अनुसार ले:

तरीका:         

1.सबसे पहले, चावल और उड़द की दाल को अलग-अलग धो लें और उन्हें अलग-अलग बर्तन में कम से कम 4 घंटो तक भिगाकर रखे।

2.भिगोए हुए चावल और उड़द की दाल को अलग-अलग मिक्सर में थोडा पानी डाल कर बारीक पीस लें ताकि एक मुलायम और चिकना बैटर बन जाए। अब इसे रात भर के लिए छोड़ दें। ताकि अच्छा फर्मेंट हो जाए।

3.फेर्मेंट होने के बाद, उबलते हुए पानी में हल्दी पाउडर और नमक मिलाएं और अच्छी तरह से मिक्स करें।

4.एक तवे को मध्यम आंच पर गर्म करें और उस पर थोड़ा सा घी डालें।

5.अब एक चम्मच बैटर को गर्म तवा पर डालें और इसे अच्छी तरह पतला और बड़ा बनाए।

6. गर्म तवा के चारो तरफ से थोड़ा सा तेल डालें और उसके ऊपर से कटी हुई हरी मिर्च, प्याज, टमाटर, और पनीर डाले।

7. कुछ देर बाद धीरे से दूसरी तरफ पलट दें और दोसा को लाल होने तक तक पकाएं। जब दोसा नीचे से लाल और कुरकुरा हो जाए, तो उसे निकाल लें।

8.पनीर डोसा को हरी धनिया की चटनी के साथ या सांभर के साथ परोसें और उसका आनंद उठाएं।

9.आशा है कि आपको यह सवाल पनीर डोसा कैसे बनाता है? जो इस लेख में आपको पूरी तरह से समझ आ गई है। आप इस स्वादिष्ट व्यंजन का आनंद उठा सकेंगे। अपने परिवार और मित्रों के साथ इसे साझा करें।

पनीर डोसा खाने के फायदे:

पनीर डोसा एक स्वादिष्ट और पौष्टिक व्यंजन है जो दक्षिण भारतीय लोगो की सबसे पसंदीदा खाना में से एक है। इसमें पनीर और दाल का उपयोग होता है, जिससे यह एक बेहद पोषक और संतुलित भोजन बनता है। न केवल स्वादिष्ट बल्कि पनीर डोसा कई गुणों से भरपूर होता है। इस लेख में, हम आपको पनीर डोसा खाने के फायदे के बारे में विस्तार से बताएंगे:

1.पौष्टिकता से भरपूर: पनीर डोसा में उच्च प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन और मिनरल्स का अच्छा स्रोत होता है। पनीर में प्रोटीन, विटामिन ए, विटामिन B-2 और B-12 शामिल होते हैं जो शरीर के विकास और रखरखाव में महत्वपूर्ण होता हैं।

2.ऊर्जा का बेहतर स्रोत: पनीर डोसा में मौजूद चावल और उड़द दाल शरीर को तुरंत ऊर्जा प्रदान करते हैं। इसलिए, इसे सुबह के नाश्ते में खाने से दिनभर की गतिविधियों के लिए ऊर्जा की आवश्यकता पूरी होती है।
3.डाइजेशन को सुधारे: पनीर डोसा में प्रोबायोटिक्स होते हैं जो आपके पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। इससे पाचन शक्ति में सुधार आता है और भोजन को पूरी तरह से पचता है।

4.हड्डियों के लिए फायदेमंद: पनीर डोसा में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम होता है जो हड्डियों के लिए बेहद लाभकारी होता है। यह एक अच्छा कैल्शियम स्रोत होता है जो हड्डी संबंधी बीमारियों से बचाव करने में मदद करता है।

5.वजन नियंत्रण: पनीर डोसा में प्रोटीन और फाइबर होते हैं। जिससे आपको भूख का काम अनुभव होता है और वजन को नियंत्रित करने में सहायक होते हैं। इसे डाइट में शामिल करके आप वजन घटा सकते हैं ।

6.मस्तिष्क के लिए फायदेमंद: दाल और पनीर में मौजूद विटामिन B-12 मस्तिष्क के लिए फायदेमंद होता है। इससे मस्तिष्क की क्षमता बढ़ती है। अगर आप अपने परिवार में पनीर डोसा बनवाते हैं तो आपके बच्चो का दिमाग बहुत तेज होगा।

पनीर डोसा खाने के नुकसान:

पनीर डोसा, पनीर डोसा एक लोकप्रिय और स्वादिष्ट दक्षिण भारतीय लोगो का खाना है जिसको सुबह के नाश्ते के लिए बनाया जाता है। यह बहुत ही आसान और तेजी से बनने वाला खाना है जिसमें शुद्ध पनीर, दाल और चावल का आटा इस्तेमाल किया जाता है। अब हम जानेंगे की पनीर डोसा खाने से होने वाले नुकसान जो इस प्रकार हैं:

1.कैलोरी संख्या: पनीर डोसा में पनीर, राई, और तेल का सेवन होता है, जिससे इसमें अधिक कैलोरी होती है। यदि आप वजन को नियंत्रित रखना चाहते हैं, तो प्रतिदिन की कैलोरी संख्या का ध्यान रखना जरूरी है। अधिक कैलोरी से मोटापा और दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।

2. तेल का सेवन: पनीर डोसा तैलीय तथा मसालेदार होता है इसको बनाने के लिए ज्यादा तेल का उपयोग होता है। यह तेल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ा सकता है और हृदय संबंधी बीमारियों के खतरे को बढ़ा सकता है। अगर आपको ऐसी कोई समस्या है तो आप इससे बचे।
3.एलर्जी और अनुकूलन: कुछ लोग को पनीर डोसा खाने से एलर्जी होता है तो आगर आपको ऐसी कोई भी समस्या है तो इसे खाने से पहले अपने चिकित्सक से जरूर परामर्श ले।

(Disclaimer: पनीर दोसा रेसिपी को खाने से फायदे और नुकसान ये सभी जानकारी समान्य जानकारियां पर आधारित है। तो आगर पनीर डोसा खाने से नुकसान होता है तो आप डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।) 

 

 

1 thought on “पनीर डोसा कैसे बनता है?”

Leave a Comment