तुरंत शुगर कम कैसे करें?

तुरंत शुगर कम कैसे करें?

आजकल तेजी से बदलते जीवनशैली के कारण शुगर की समस्या आम हो गई है। जो बढ़ती उम्र, खानपान और गलत आदतें यही कुछ करण है जिससे लोगो को शुगर हो जाती है।और इस दौर में ज्यादातर शुगर खाने के कारण हो रही है।और यह समस्या अधिकतर लोगों को प्रभावित करती है। शुगर को नियंत्रित करना आवश्यक है। और तुरंत शुगर कम कैसे करें? इस विषय पर चर्चा करेंगे। क्योंकि यह अन्य गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकती है। यहां हम कुछ आसान तरीके और उपाय बता रहे हैं जिनसे आप तुरंत शुगर को तुरंत शुगर कम कैसे करें?

1.नियमित व्यायाम करे: योग और व्यायाम करना शुगर को कम करने में मदद करता है। नियमित व्यायाम से शरीर का रक्त शर्करा स्तर नियंत्रित रहता है।

2.सही आहार ले: आहार में फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करें, जैसे कि फल, सब्जियाँ, अनाज, और अन्य पौष्टिक आहार। मिठाइयों और फास्ट फूड से दूर रहे।

3.पानी की मात्रा: दिन में कम से कम 8-10 गिलास पानी पीना शुगर को कम करने में मदद कर सकता है। पानी से शरीर की अतिरिक्त शर्करा बाहर निकलता है।

4.तनाव को कम करे: तनाव को कम करने के तरीके जानना महत्वपूर्ण है। मेडिटेशन, प्राणायाम, और योग से तनाव को कम करने का प्रयास करें।

5.अच्छी नींद ले: पर्याप्त नींद लेना भी शुगर को कम करने में मदद कर सकता है। नींद की गुणवत्ता पर ध्यान दें।

6.डॉक्टर की सलाह ले: अगर आपके शरीर में शुगर का स्तर बहुत अधिक है, तो आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। वे आपके लिए सही उपाय और इलाज प्रदान कर सकते हैं।

तुरंत शुगर कम करने के लिए क्या खाए?

शुगर को कम करने के लिए आपको इन फल और सब्जियों क्कोआप अपने खाने में प्रयोग करे। ताकि आपका शुगर जल्दी से जल्दी कंट्रोल हो सके।

1.करेला: करेला शुगर को कम करने में अत्यधिक प्रभावी होता है। इसमें मौजूद चर्चित कॉम्पाउंड ‘कैम्पेल्लीन’ खून में शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है।

2.मेथी दाना: मेथी दाना शुगर के स्तर को कम करने में मदद करता है और इंसुलिन की सुरक्षा में भी सहायक हो सकता है।

3.दालचीनी: दालचीनी में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट्स और यूनिक बायोकैमिकल्स शर्करा के स्तर को कम करने में मदद करते हैं।

4.सब्जियाँ: फिबर से भरपूर सब्जियाँ खाना शुगर के स्तर को सामान्य रखने में मदद करते हैं।

5.नट्स और बीन्स: मूंगफली, बादाम, पिस्ता, लोबिया, राजमा आदि के सेवन से प्रोटीन की मात्रा बढ़ती है और शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करती है।
मूली, गाजर, और टमाटर: ये सब सब्जियाँ अपने आंतरिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करती हैं और शर्करा को नियंत्रित करने में सहायक हो सकती हैं।

और आगे पढ़े: मोटे होने के लिए क्या करे?

शुगर होने के कारण: डायबिटीज की उत्पत्ति के पीछे के कारण

आजकल डायबिटीज (शुगर) एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या बन चुकी है, जिसका प्रमुख कारण शरीर के रक्त में शर्करा के स्तर का बढ़ना। डायबिटीज की उत्पत्ति के पीछे कई कारण हो सकते हैं, जो इस प्रकार हैं:
आनुवंशिक लक्षण: यदि आपके परिवार में दादा,दादी या आपके पापा को शुगर की परेशानी है तो आपको भी शुगर जैसी समस्या हो सकती है।

1.खानपान की गलत आदतें: खान पान की आदतें जैसे अधिक मिठाई और फास्ट फूड्स का सेवन,ये सभी शर्करा के स्तर को बढ़ा सकती है।

2.ज्यादा आराम: बैठकर रहना और ज्यादा अपने शरीर को आराम देना ऐसी जीवनशैली डायबिटीज के खतरे को बढ़ा सकती है। अव्यायाम और शारीरिक क्रियाओं में कमी, होने से भी शुगर होने का कारण हो सकता है।

3.ज्यादा वजन और मोटापा: ज्यादा वजन और मोटापा डायबिटीज के विकास के लिए एक प्रमुख कारण हो सकते हैं। मोटापा ही अधिक वसा शर्करा के रोग को बढ़ावा देने में सहायक होता है।

4.आयु और उम्र: बढ़ती उम्र डायबिटीज के विकास के खतरे को बढ़ा सकती है। ज्यादातर लोगों में उम्र बढ़ने के साथ-साथ उनमें शुगर की समस्या आती है।

5.अन्य रोगों का होना: यदि आपके शरीर में कुछ अन्य स्वास्थ्य समस्याएँ है तो इस वजह से भी आपके शरीर में शुगर जैसी समस्या हो सकती है।

6.आदत और तनाव: तंबाकू खाना, शराब पीना, और तनाव डायबिटीज के विकास के खतरे को बढ़ा सकते हैं।

Disclaimer:
ध्यान दें कि ये सुझाव केवल आम जानकारी पर आधारित है अगर आपको शुगर है तो आप अपने नजदीकी चिकित्सालय परिसर में जरूर जाकर डॉक्टर से सलाह ले।

1 thought on “तुरंत शुगर कम कैसे करें?”

Leave a Comment